Fact Check:क्या सीतारमण ने केजरीवाल की ‘फ्री मेट्रो’ योजना पर बयान दिया है ?

निर्मला सीतारमण ने अबी तक केजरीवाल की महिलाओं को मुफ्त मेट्रो योजना पर कोई बयान नहीं दिया

0
36
निर्मला सीतारमण के फर्जी फेसबुक पेज का स्क्रीन शॉट
निर्मला सीतारमण के फर्जी फेसबुक पेज का स्क्रीन शॉट

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की फेसबुक पर एक पोस्ट वायरल है जिसमें वो अरविंद केजरीवाल की महिलाओं को बस व मेट्रो फ्री वाली घोषणा पर तंज कस रहीं हैं।ये पोस्ट अंग्रेज़ी में है और इसके साथ एक वृद्ध औऱ युवा लड़की की तस्वीर है। इसका हिंदी में अनुवाद कुछ इस तरह का है। ”एक मज़दूर मेट्रो का किराया भरेगा वहीं एक अमीर लड़की को किराया । ये कैसी नीति है अरविंद केजरीवाल? क्या ये आपकी मूर्खती की हद नहीं है?क्या सिर्फ फ्री का माल बांटना ही चुनाव जीतने का तरीका है?”

निर्मला सीतारमण नामके फेसबुक पेज का स्क्रीन शॉट
निर्मला सीतारमण नामके फेसबुक पेज का स्क्रीन शॉट

इस पोस्ट को फेसबुक पर यहां देख सकते हैं इसके अलावा भी कई पेजों पर इस पोस्ट को शेयर किया गया।


ये भी पढ़ें

क्या ट्रेन में सामान बेचने वाले अवधेश को नेताओं की मिमिक्री करने की वजह से गिरफ्तार किया गया?


निर्मला सीतारमण के पोस्ट की सच्चाई


फैक्ट चेक

सबसे पहले हमने निर्मला सीतारण के फेसबुक पेज के बारे में पता करना शुरू किया तो पता लगा ये उनका आधिकारिक पेज नहीं बल्कि फैन पेज है। आधिकारिक पेज पर ब्लूटिक का साइन है जबकि फर्जी पेज पर ऐसा नहीं है। ब्लू टिक का साइन पेज के आधिकारिक हैंडल को दर्शाता है। दूसरी बात फर्जी पेज पर अंग्रेजी में लिखे सीतारमण की स्पेलिंग गलत है…इसमें से h गायब है।

 निर्मला सीतारमण के आधिकारिक और फेक फेसबुक पेज का स्क्रीन शॉट
निर्मला सीतारमण के आधिकारिक और फेक फेसबुक पेज का स्क्रीन शॉट

आप आधिकारिक फेसबुक पेज यहां देख सकते हैं। औऱ फर्जी फेसबुक पेज को यहां देख सकते हैं। इसके अलावा अब ये पता करना था कि फर्जी पोस्ट पर लगी फोटो कब और कहां की हैं। ये आसानी से रिवर्स इमेज सर्च के जरिए पता चल गया । लड़की की फोटो कई वेबसाइट पर आप देख सकते हैं। इंस्टाग्राम पर भी मौजूद है।

और बुजुर्ग व्यक्ति की फोटो एक औऱ वेबसाइट पर दिखाई देती है जिसे कई साल पहले लिया गया है।इस फोटो को लोग अक्सर गरीब आदमी की प्रतिनिधित्व फोटो के रूप में इस्तेमाल करते हैं। सारे फैक्ट साबित करते हैं कि वायरल संदेश औऱ फोटो झूठे हैं।


निष्कर्ष

दावा- निर्मला सीतारमण ने कहा एक मज़दूर मेट्रो का किराया भरेगा वहीं एक अमीर लड़की को किराया नहीं देना पड़ेगा। ये कैसी नीति है….अरविंद केजरीवाल क्या ये आपकी मूर्खती की हद नहीं है..क्या सिर्फ फ्री का माल बांटना ही चुनाव जीतने का तरीका है…

दावा करने वाले- निर्मला सीतारमण के नाम का फर्जी फेसबुक पेज

सच- दावा झूठा है

हमारी फैक्ट चेक स्टोरी में अगर आपको कोई गलती नज़र आती है तो आप हमें ज़रूर लिखें। हम अपनी गलतियों को स्वीकार करने के लिए पूरी तरह से हमेशा तैयार रहते हैं। आप हमें info@indiacheck.in या indiacheck1@gmail.com पर मेल कर सकते हैं। हम एक प्रक्रिया के तहत जांच करेंगे औऱ गलती पाए जाने पर स्टोरी को अपडेट करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here