क्या राहुल गांधी ने पुलवामा के शहीदों को श्रद्धांंजलि देते समय मोबाइल देखा ?

कार्यक्रम में देखा लेकिन श्रद्धांजलि देते समय नहीं देखा

0
88
दिल्ली के पालम एयरपोर्ट पर पुलवामा के शहीदों को श्रद्धांजलि देने के कार्यक्रम में राहुल गांधी

15 फरवरी को दिल्ली में पुलवामा के शहीदों को दिल्ली के पालम एयर फोर्स एरिया में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने श्रद्धांजलि दी। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर औऱ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी शहीदों को श्रद्धासुमन अर्पित किए। इस कार्यक्रम मेेेें राहुल गांधी की एक तस्वीर जिसे वीडियो के स्क्रीन शॉट से बनाया गया है एक संदेश का साथ सोशल मीडिया पर ज़बरदस्त तरीके से वायरल हो रही है। तस्वीर में राहुल अपना मोबाइल देखते नज़र आ रहे हैं। और संदेश है राहुल गांधी शहीदों को सही से सम्मान भी नहीं सकते। तस्वीर के साथ कई जगह वीडियो भी पोस्ट किए गए हैं। इस तस्वीर और वीडियो को बीजेपी के कई नेताओं ने ट्वीट किया । ट्विटर सहित फेसबुक, शेयर चैट औऱ कई साइट्स पर इसे खूब शेयर किया जा रहा है।.

I support narendra modi page ‘पर फर्क साफ है’ संदेश के साथ एक तरफ नरेंद्र मोदी श्रद्धांजलि देते हुए औऱ दूसरी तरफ राहुल गांधी को मोबाइल देखते हुए वीडियो पोस्ट किया गया जिसे 32000 लोग अब तक देख चुके हैं।

फर्क साफ है मोदीजी और राहुल गांधी में

फर्क साफ है मोदीजी और राहुल गांधी में

Posted by I Support Narendra Modi on Friday, February 15, 2019

नमो फेसबुक पेज जिसके 45 लाख फैन्स हैं उस पर भी हज़ारों लोग देख चुके हैं। इस पोस्ट में फोटो के साथ भी वही संदेश है जो परेश रावल ने पोस्ट किया है।


सच्चाई पता करने का तरीका?

हम आपको 4 वीडियो दिखाएंगे और उनका विश्लेषण करेंगे। सबसे पहले आपको दिखाते हैं राहुल गांधी को शहीदों के पार्थिव शरीर पर माल्यार्पण करते हुए। इस दौरान वो कहीं भी मोबाइल का इस्तेमाल करते नहीं दीखते हैं । और ना ही उनके हाथ में मोबाइल है।

दिल्ली के पालम एयरपोर्ट के टेक्निकल क्षेत्र में पुलवामा के शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए

श्रद्धांजलि देने के बाद वो वहीं खड़े हो जाते हैं जहां बाकी महत्वपूर्ण लोग खड़े हैं।
आइए अब आपको दिखाते हैं वो वीडियो क्लिप जिसमें राहुल गांधी मोबाइल देख रहें हैं।

राहुल गांधी मोबाइल फोन देखते हुए

इस वीडियो क्लिप को आपको गौर से और कई बार देखकर समझना पड़ेगा। राहुल इसमें मोबाइल देखते हुए नज़र आ रहे हैं। औऱ उनके एक तरफ सेना अध्यक्ष बिपिन रावत औऱ दूसरी तरफ राज्यवर्धन राठौर, अरविंद केजरीवाल, निर्मला सीताऱमण औऱ राजनाथ सिंह हैं। ये पूरी एक ही लाइन है।कुछ सेकेंडस वीडियो क्लिप आगे बढ़ती है राज्यवर्धन थोड़ा सी गर्दन घुमाकर एक तरफ देखते हैं। तभी राजनाथ सिंह इधर उधर देखते हैं औऱ फिर एक कदम पीछे जाकर तुरंत वापस अपनी जगह पर आ जाते हैं। फिर कैमरा पैन होता है जहां शहीदों के पार्थिव शरीर हैं और क्लिप खत्म हो जाती है। इस पूरे घटना क्रम से लगता है कि जैसे किसी का इंतज़ार किया जा रहा है। जी हां, इंतज़ार किया जा रहा है प्रधानमंत्री मोदी का।

अब एक औऱ वीडियो देखते हैं इसी कार्यक्रम का जब प्रधानमंत्री पहुंचते हैं और शहीदों को श्रद्धांजलि देते हैं।

 प्रधानमंत्री श्रद्धासुमन अर्पित करते हैं और कुछ देर तक हाथ जोड़कर शहीदों के पार्थिव शरीर के सामने खड़े रहते हैं। इस दौरान कुछ देर के लिए वाकी लोगों के विजुअल्स भी दिकाई देते हैं जिसनमें राहुल गांधी भी हैं। लेकिन ये वीडियो एडिट किया गया है जिसमें बीच में शॉट्स डाले गए हैं।

अंत में एक आखिरी वीडियो की जांच की हमने। ये वीडियो एक घंटा 19 मिनट और 12सेकेंडस लंबा है। ये शहीदों के पार्थिव शरीर को कार्यक्रम स्थल तक लाने से लेकर प्रधानमंत्री के जाने तक का वीडियो हैं। इस वीडियो से साफ होता है कि प्रधानमंत्री ने सबसे आखिर में श्रद्धांजलि दी। उससे पहले सभी महत्वपूर्ण लोग शहीदों को श्रद्धांजलि दे चुके थे औऱ प्रधानमंत्री का इंतजार किया जा रहा था। इस दौरान लोग आपस में बातचीत कर रहे थे। तभी राहुल गांधी जेब से मोबाइल निकालते नज़र आते हैं। करीब 32 सेकेंड तक मोबाइल उनके हाथ मे रहता और तभी कैमरा पैन होता गेट की तरफ जहां प्रधानमंत्री की गाड़ी का इंतजार कर रहें है कुछ लोग। करीब 50 सेकेंड बाद कैमरा वापस उसी जगह पर पैन होता है जहां राहुल और अन्य लोग खड़े हैं। उससे पहले ही वो मोबाइल वापस जेब में रख चुके होते हैं इसलिए जेब में रखने का वीडियो ये कैमरा नहीं दिखा पाता। हो सकता है किसी दूसरे कैमरे में ये तस्वीर आई हो।इसका मतलब है कि 40 से 45 सेकेंड तक वो मोबाइल देखते हैं। हालांकि ये समय 10-20 सेकेंड कम या ज्यादा हो सकता है। प्रधानमंत्री मोदी करीब 7 से 8 मिनट बाद कार्यक्रम स्थल पर पहुंचते है और शहीदों को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हैं। ये वीडियो आप भी नीचे देख सकते हैं। इसमें 58: 48 पर आप राहुल गांधी को मोबाइल निकालते हुए औऱ 1:07 :20 पर प्रधानमंत्री को आते हुए देख सकते हैं।

दिल्प्रली के पालम एयरपोर्ट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पुलवामा के शहीदोंं को श्रद्धांजलि देते हुए

प्रधानमंत्री के श्रद्धांजलि देने के बाद सारे लोग एक एक करके उनके पीछे निकल जाते हैं। इस वीडियो को the quint ने यू ट्यूब पर अपलोड किया है।


निष्कर्ष

राहुल गांधी ने कार्यक्रम में मोबाइल देखा ये बात सही है। लेकिन ये उस दौरान हुआ जब प्रधान मंत्री का इंतज़ार किया जा रहा था। इस दौरान अन्य लोग भी कैजुअल थे औऱ आपस में बात भी कर रहे थे। राहुल गांधी ने शहीदों को श्रद्धंजलि देने के दौरान मोबाइल नहीं देखा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here