क्या रविशंकर प्रसाद ने गलत वीडियो को 200आतंकियों के मारे जाने का सबूत बताया?

एयर स्ट्राइक पर रविशंकर प्रसाद ने टीवी चैनलों की गुमराह करने वाले वीडियो का हवाला देकर की तारीफ

0
18
केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद बालकोट में मारे गए आतंकियो के वीडियो का ज़िक्र करते हुए

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने एक बयान में एक वीडियो का ज़िक्र करते हुए टीवी चैनल्स की तारीफ की । बालकोट में हुई एयर स्ट्राइक के बाद ये वीडियो हाल ही में सोशल मीडिया औऱ मेनस्ट्रीम मडिया में वायरल हुआ था। वीडियो के हवाले से कहा गया कि पाकिस्तान की आर्मी ने ये मान लिया कि बालकोट में 200 आतंकवादी मारे गए। टीवी चैनलों ने इस वीडियो को चलाते हुए कहा कि वो इस वीडियो को सत्यापित नहीं करते हैं। आप रविशंकर प्रसाद के इस बयान को वीडियो में 13:07 से सुन सकते हैं।


राहुल गांधी जी आप को क्या हो गया है…सिर्फ दो दिन सरकार के साथ रहे। बाद में आपने एयर स्ट्राइक पर सवाल उठाए आपकी पार्टी के नेता सबूत मांग रहे थे तो आप इस पर भी खामोश रहे मतलब आप भी उनके स्वर में स्वर मिला रहे थे औऱ इतना एविडेंस  पब्लिक डोमेन में है औऱ आज मैं पार्टी के मंच से टीवी चैनलों का अभिनंदन करना चाहता हूं जिस तरह से उन्होने एविडेंस को देश के सामने रखा है हमें टीवी चैनलों पर बहुत गर्व है औऱ ये भी सुनने में आया है देखा है एक वीडियो जिसमें पाकिस्तान के लोगों ने ही दिखाया है किस तरह से मरे हैं 200 लोग ,रो रहे हैं  और पाकिस्तान सेना के प्रधान उनको कंडोल करने की कोशिश कर रहे हैं।

14 मार्च को दिल्ली में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद की दिल्ली में बीजेपी मुख्यालय में प्रेस कांफ्रेंस

जिस वीडियो का ज़िक्र कर रहे हैं रविशंकर उसे अमेरिका निवासी पाकिस्तान के गिलगित एक्टिविस्ट सेंगे हसनैन सेरिंग ने ट्विटर पर शेयर किया था। और तमाम टीवी चैनलों ने उसे चलाया था। ये दावा करते हुए कि पाकिस्तान आर्मी ने माना कि बालकोट में 200 आतंकवादी मारे गए। ये वीडियो आप नीचे देख सकते हैं।

India check  ने इस वीडियो का फैक्ट चेक किया था जिसमें ये दावा गलत पाया था। इस पूरी जांच को आप यहां देख सकते हैं। हमारी जांच में वीडियो में की गई बातचीत और टीवी चैनलों के दावे मेल नहीं खाते हैं। वीडियो में बातचीत के जिस हिस्से के आधार पर दावा किया गया वो अक्षरश: नीचे देख सकते हैं।


”ये रुतबा अल्लाह के कुछ ख़ास बन्दों को नसीब होता है,आपको पता है की कुछ 200 बन्दे ऊपर गए थे? इसके नसीब में लिखा हुआ था शहादत । हमारे नसीब में नहीं लिखा था। हम रोज़ाना चढ़ते है, जाते है, आते है। तो ये अल्लाह के ख़ास बन्दे, जिसपे करम होता है, जिसपे उनकी ख़ास नज़र-ओ-करम होती है, उसको ये नसीब ….”

”इसके नसीब में लिखा हुआ था शहादत” का यहां मतलब जिसकी अंतयेष्टि में ये पाकिस्तानी सेना का अफसर आया था। ये बातचीत आप भी सुन सकते हैं उपर दिए गए वीडियो में। जबकि दावे में कहां गया था कि पाकिस्तान के आर्मी अफसर ने स्वीकर किया है कि बालकोट में एयर स्ट्राइक के दौरान 200 आतंकवादी मारे गए।

किसकी अंतयेष्टि थी इस बात की भी हमने अपनी रिपोर्ट में जांच की थी। औऱ ये भी प्रमाण मिले थे कि ये व्यक्ति कौन है। हमने 1 मार्च को फेसबुक पर पोस्ट किया गए एक वीडियो की जांच की थी जिसमें ये तथ्य मिले थे। वीडियो आप नीचे देख सकते हैं।

احسان اللہ شہید جنازے کا ایک خوبصورت منظر ۔

Posted by ‎شینگاڑہ درہ نیوز‎ on Saturday, March 2, 2019

वीडियो में एक जगह पाक सेना के जवान शव पर माल्यार्पण करते हैं। इस माला पर
GOC 21 ARTY DIV लिखा है। जो इसके सेना के जवान होने की तरफ इशारा करता है।

रविसंकर प्रसाद ने इसी वीडियो का हवाला दिया प्रेस कांफ्रेंस में

1 मार्च को जो वीडियो शेयर किया गया उसमें उर्दू में कुछ जानकारी मिली जिसमें कहा गया कि ये सैनिक था और इसका नाम एहसानउल्लाह बताया गया। ये पश्चिम ख़ैबर पख्तुनवा इलाके के लोअर दीर इलाके का रहने वाला है। बालाकोट से ये जगह करीब 300 किलोमीटर दूर है। इस जानकारी का इंडिया चेक ने फैक्ट चेक नहीं किया है। ये वीडियो पोस्ट करने वाले ने अपने पेज पर पोस्ट किया।

निष्कर्ष

दावा-200 आतंकवादी मारे जाने का वीडियो

दावा करने वाले- केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद

दावे की सच्चाई- दावा गलत है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here